राजे की तबियत बिगड़ी तो जागा स्वास्थ्य महकमा

जयपुर। इन दिनों बदलते मौसम के मिजाज को लेकर तरह तरह की बिमारियां हो रहीं है। अब राजस्थान सूबे की मुखिया ही मौसमी बिमारियों की चपेट में आ गई हैं। वैसे तो इन मौसमी बिमारियों को लेकर जो स्वास्थ्य महकमा चैन की नींद सो रहा है। सीएम वसुन्धरा के बिमार पड़ते ही हरकत में आ गया है।

vasundhara

सूबे के चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री राजेन्द्र राठौड़ मौसमी बीमारियों के संबंध में अधिकारियों के साथ समीक्षा कर रहे हैं। स्क्रब टाइफस और बर्ड फ्लू के संबंध में विभाग ने अब अलर्ट भी जारी किया है।राठौड़ ने सूबे में डेंगू, चिकनगुनिया, मलेरिया और स्क्रब टाइफस रोगों की रोकथाम के लिए प्रत्येक जिले की निगरानी समीक्षा कर रहे हैं। अधिकारियों को लगातार निगरानी के निर्देश जारी किए गये हैं।

बर्ड फ्लू की संभावना से प्रदेश में सावधानी बरतने के निर्देश भी महकमें ने जारी किए हैं। साथ ही विभाग ने स्क्रब टाइफस के मामलों में पशुओं के आसपास छिड़काव साफ-सफाई के निर्देश भी दिए है। अब जब सूबे का मुखिया ही बिमार हो गया हो तो प्रशासन कैसे ना चेतेगा। फिलहाल राजे के बिमार होने पर चेते विभाग ने अब जारी किए गये निर्देशों के अनुपालन के लिए एक समन्वयक मीटिंग बुलाई जिसमें प्रमुख सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य वीनू गुप्ता, पशुपालन सचिव कुंजीलाल मीणा, निदेशक जनस्वास्थ्य डॉ बी.आर.मीणा सहित संबंधित अधिकारी मौजूद रहे।