पूरे राज्य के लिए है चेतावनी, महज चंडीगढ़ को ही नहीं

चंडीगढ़। आतंक की चेतावनी विशिष्ठ रूप से केवल चंडीगढ़ के लिए नहीं है। एक वरिष्ठ अधिकारी ने यह जानकारी शुक्रवार को दी। एक सरकारी प्रवक्ता ने शुक्रवार को कहाए चंडीगढ़ प्रशासन के एवज में यह स्पष्ट किया जाता है कि दुर्गा पूजा के दौरान सतर्कता बरतने की एक नियमित सलाह आईबी यनिगरनी ब्यूरोद्ध की ओर से मिली है। उन्होंने आगे कहा कि उक्त सलाह सभी राज्यों के लिए है। खास तौर पर चंडीगढ़ के लिए किसी से कोई सूचना नहीं मिली है।

punjab-police

पहले रपटों में कहा गया था कि संभावित आतंकी हमले की सूचना मिलने के बाद संघ शासित प्रदेश चंडीगढ़ में गुरुवार को हाई अलर्ट जारी कर दिया गया। चंडीगढ़ के गृह सचिव अनुराग अग्रवाल ने पहले कहाए हमने चंडीगढ़ पुलिस को समुचित कदम उठाने को कहा है। हमने सतर्कता बरतने में शहर के निवासियों से सहयोग करने और कोई भी संदिग्ध चीज के बारे में पुलिस को सूचित करने की इच्छा जाहिर की है। चंडीगढ़ पंजाब और हरियाणा की संयुक्त राजधानी है।

दोनों राज्यों के राज्यपालोंए मुख्यमंत्रियों मंत्रियों, विधायकों वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारियों और पुलिस अधिकारियों समेत बड़ी संख्या में महत्वपूर्ण लोग शहर में रहते हैं। सीमांत पश्चिमी कमान का मुख्यालय यहां से 10 किलोमीटर की दूरी पर चंडीमंदिर में स्थित है। शहर की जनसंख्या 11 लाख है। इसके अलावा बड़ी संख्या में पड़ोसी राज्य पंजाबए हरियाणाए हिमाचल प्रदेश और जम्मू एवं कश्मीर से लोग यहां आते हैं। सेना द्वारा नियंत्रण रेखा के पार आतंकी लांच पैडों पर सर्जिकल कार्रवाई किए जाने के बाद सीमावर्ती राज्यों. जम्मू एवं कश्मीरए पंजाबए गुजरात और राजस्थान को हाई अलर्ट पर रखा गया है।