सिद्दू के भरोसे पंजाब में कांग्रेस की नाव!

अमृतसर।भाजपा से अलग हुए अपने जमाने के ऑलराउंडर नवजोत सिद्धू को लेकर कयास लगाये जा रहे हैं कि जल्द ही कांग्रेस में शामिल हो सकते हैं। इसके बाद सिद्दू का गठित किया हुआ आवाज-ए-पंजाब रहेगा या नहीं अब इसके कयासों पर भी बहस का दौर जारी है। फिलहाल कयास लगाये जा रहे हैं कि शुक्रवार तक इस पर कोई फैसला आ सकता है।कांग्रेस की प्रदेश प्रभारी आशा कुमारी से लेकर कांग्रेस के प्रदेश प्रधान कैप्टन अमिरंदर सिंह लगातार कह हैं कि सिद्दू बिना शर्त कांग्रेस में आना चाहते हैं तो उनका खुले दिल से स्वागत है।

navjot-singh-siddhu

कांग्रेस की तरफ से सिद्धू को आफर दी गई हैं कि वह अपने संगठन आवाज-ए-पंजाब को कांग्रेस में मर्ज करके कांग्रेस की सदस्यता ले लें। कांग्रेस ने सिद्धू को खुला विकल्प देते हुए कहा है कि पंजाब में कांग्रेस की सरकार बनने पर उनकी पत्नी नवजोत कौर सिद्धू को कैबिनेट मंत्री बनाया जाएगा और परगट सिंह, बलिवंदर सिंह बैंस और सिमरजीत सिंह बैंस को भी टिकट दी जाएगी साथ कैप्टन अमरिंदर सिंह द्वारा अमृतसर लोकसभा की सीट खाली किए जाने के बाद नवजोत सिद्धू अमृतसर से चुनाव लड़ेंगे।

वहीं, नवजोत सिंह सिद्धू ने शुक्रवार को दिल्ली में अपने संगठन की बैठक बुला ली है, जिसमें बैंस बंधु और परगट सिंह भी शामिल होंगे। इस बात की पुष्टि खुद बलविंदर सिंह बैंस ने की हैं। वहीं, कैप्टन अमरिंदर सिंह भी शुक्रवार को दिल्ली में ही होंगे। माना जा रहा हैं कि सिद्धू के कांग्रेस में शामिल होने से कांग्रेस को मजबूती मिलेगी। लेकिन सिद्दू अपने राजनैतिक भविष्य को तराजू में तौल कर ही कोई फैसला लेना चाहते हैं।