करियर को लेकर कभी योजना नहीं बनाई: प्रभुदेवा

चेन्नई। पिछले तीन दशकों से भारतीय फिल्म जगत में राज करने वाले एक अभिनेता, कोरियोग्राफर (नृत्य निर्देशक) और फिल्मकार के रूप में बहु-आयामी प्रतिभा के धनी प्रभुदेवा का कहना है कि उन्होंने निर्देशक या निर्माता बनने की योजना कभी नहीं बनाई थी। बतौर निर्माता प्रभु देवा कॉमेडी के पुट के साथ तमिल हॉरर थ्रिलर फिल्म ‘देवी’ की रिलीज को लेकर उत्साहित हैं।

prabhu-deva

प्रभु देवा ने 2004 की हिट तेलुगू फिल्म ‘नवोस्तानान्ते नेनोदान्ता’ से बतौर निर्देशक शुरुआत की थी। उन्होंने निर्देशन में कदम रखने के बारे में आईएएनएस को बताया, “जब निर्माता एमएस राजू ने मुझसे पूछा कि क्या मैं फिल्म का निर्देशन करना चाहूंगा, उस समय मैं तेलुगू फिल्म ‘वर्षम’ के एक गाने को कोरियोग्राफ कर रहा था। मैंने सिर्फ पांच सेकेंड में हां कह दिया।”

अभिनेता ने बताया कि इसी तरह उनके मित्र गणेश ने जब उनके नाम (प्रभु) पर निर्माण कंपनी शुरू करना चाहा तो वह तुरंत राजी हो गए। प्रभु देवा ने कहा कि उन्होंने कभी अपने करियर के लिए कोई योजना नहीं बनाई। तमिल में ‘देवी’, तेलुगू में ‘अभिनेत्री’ और हिंदी में ‘तूतक तूतक तूतिया’ नाम से रिलीज होने वाली इस फिल्म में प्रभु देवा मुख्य भूमिका में हैं।

प्रभु ने बताया कि पहले फिल्म किसी और अभिनेता को लेकर बनाने की योजना थी, लेकिन बात नहीं बनने पर निर्देशक ए.एल. विजय ने उन्हें मुख्य भूमिका निभाने के लिए मना लिया। अभिनेता इस फिल्म की सफलता को लेकर आश्वस्त हैं। फिल्म में सोनू सूद और तमन्ना भाटिया भी हैं। उन्होंने कहा कि सोनू, तमन्ना पहले कई दक्षिण भारतीय फिल्मों में काम कर चुके हैं, इसलिए फिल्म के किसी कलाकार को तीन भाषाओं वाली इस फिल्म में काम करना चुनौतीपूर्ण नहीं लगा।

सबसे सफल फिल्म निर्देशकों में से एक प्रभु देवा अब भी कोरियोग्राफी (नृत्य निर्देशन) को अपना पहला प्यार मानते हैं। उन्होंने इस खबर का खंडन किया कि उन्हें चिरंजीवी अभिनीत ‘खिलाड़ी नंबर 150’ में कोरियाग्राफी करने के लिए अनुबंधित किया गया है। अपनी फिट शरीर के राज का खुलासा करते हुए अभिनेता ने कहा, “मैं शाकाहारी हूं और शाम सात बजे के बाद कुछ भी नहीं खाता हूं। मेरा अपने दिमाग पर पूरा नियंत्रण रहता है और शुरू से मेरी यही शैली रही है। मेरा मानना है कि इसका असर मेरे शरीर पर दिखता है।”