शेल्टर होम केसः CBI चार्जशीट में खुलासा, ब्रजेश पहले बच्चियों से डांस कराता बाद में करता था रेप

शेल्टर होम केसः CBI चार्जशीट में खुलासा, ब्रजेश पहले बच्चियों से डांस कराता बाद में करता था रेप

मुजफ्फरपुर शेल्टर होम केसः मामले के संबंध में सीबीआई की ओर से ‘विशेष पॉक्सो कोर्ट’ में दाखिल की गई 73 पन्नों की चार्जशीट में ब्रजेश ठाकुर, रवि रौशन, विकास कुमार, दिलीप कुमार वर्मा, रोजी रानी व अन्य पर कई गंभीर व संगीन आरोप लगे है। कुल 21 आरोपियों पर  CBI ने  चार्जशीट दायर की है।

 

शेल्टर होम केसः CBI चार्जशीट में खुलासा, ब्रजेश पहले बच्चियों से डांस कराता बाद में करता था रेप

मधु, बच्च‍ियों को खाने में सूखी रोटी और नमक देती थी

चार्जशीट में दो आरोपितों को ट्रेसलेस बताया है। इस बात का भी खुलासा हुआ है क‍ि ब्रजेश बच्च‍ियों से अश्लील गानों पर डांस कराकर दुष्कर्म करता था। व‍िरोध करने पर ब्रजेश की सहयोगी मधु, बच्च‍ियों को खाने में सूखी रोटी और नमक देती थी। इसके अलावा तत्कालीन सहायक निदेशक रोजी रानी पर बालिका गृह में हो रही हिंसक वारदातें और यौन उत्पीड़न की जानकारी के बावजूद मुख्यालय व जिला प्रशासन को इसकी रिपोर्ट नहीं सौंपी है। इस पर सीबीआई ने भी टिप्पणी की है।

बालिका गृह कांड की जांच कर रही इंसपेक्टर विभा कुमारी ने चार्जशीट में रोजी रानी पर टिप्पणी करते हुए कहा है कि जिला चाइल्ड प्रोटेक्शन यूनिट की सहायक निदेशक होते हुए रोजी रानी ने अपने कर्तव्यों का पालन नहीं किया है। चार्जशीट में रोजी रानी 19 मई 2014 से लेकर 3 अगस्त 2017 तक मुजफ्फरपुर में जिला चाइल्ड प्रोटेक्शन यूनिट की सहायक निदेशक के पद पर थी। इस दौरान जिला निरीक्षण टीम ने 11 बार साहू रोड स्थित बालिका गृह का निरीक्षण किया।

इसे भी पढ़ें-मुजफ्फुरपुर बालिका गृह रेप कांड के मुख्य आरोपी बृजेश ठाकुर के ऊपर फेंकी गई स्याही

निरीक्षण टीम में रोजी रानी भी शामिल थी। निरीक्षण 28 फरवरी 2015 से लेकर 5 जून 2017 तक क‍िया गया था। इस दौरान बालिका गृह में रहने वाली बच्चियों ने रोजी रानी को अपने दर्द से अवगत कराया था। बालिका गृह की बच्चियों ने रोजी रानी को इस बात की भी जानकारी दी थी कि इसमें रहने वाली बच्चियों के साथ ब्रजेश ठाकुर, रवि रौशन व विकास कुमार ने दुष्कर्म किया और उनको मारा-पीटा भी है। इस शिकायत पर रोजी रानी ने बच्चियों को बचाने किसी तरह का प्रयास नहीं किया। इसके उलट रोजी ने ”ऑल इज वेल” की रिपोर्ट मुख्यालय और जिला प्रशासन को सौंपी है।

चार्जशीट के अनुसार पीड़िता ने ब्रजेश पर बालिका गृह में रहने वाली एक बच्ची के हत्या का आरोप लगाया है। इसमें बताया है कि ब्रजेश ठाकुर और नौकर कृष्णा ने बच्चियों के साथ यौन उत्पीड़न किया। आरोप लगाया ये भी है कि ब्रजेश ने एक बच्ची के सिर पर मारा जिससे उसकी मौत हो गई थी। इसमें उसकी मदद किरण, हेमा और गुड्डू ने की थी।

इसे भी पढ़ें-मुजफ्फरपुर कांडः तेजस्वी यादव के खिलाफ मंत्री सुरेश शर्मा ने दर्ज करवाया मानहानि का केस

तीन साल की बच्ची के साथ दुष्कर्म करने का प्रयास

चार्जशीट के मुताबिक पीड़ित एक बच्ची ने आरोप लगाया कि ब्रजेश ठाकुर ने एक तीन साल की बच्ची के साथ दुष्कर्म करने का प्रयास किया था। पीड़िता ने आरोप लगाया है कि बच्ची के हाथ में आरोपी ने जख्म पहुंचाया था, इसकी तस्वीर बच्चियों ने रोजी रानी को दिखाई। इस घटना की पुष्टि चार्जशीट में दो पीडिताओं के बयान से से होती है।