मणिपुर: खत्म हुई आर्थिक नाकाबंदी खत्म समझौते के लिए राजी नगा संगठन

इम्फाल। 5 महीनों से केंद्र सरकार, राज्य सरकार और नागा समूह के बीच चल रही वार्ता सफल होने के बाद आज मणिपुर में की आर्थिक नाकेबंदी खत्म हो गई है। बता दें कि राज्य में पूर्व मुख्यमंत्री ओ इबोबी सिंह की अगुवाई वाली कांग्रेस सरकार के 7 नए जिले बनाए जाने के फैसले के खिलाफ यू.एन.सी. ने एक नवंबर, 2016 को आर्थिक नाकेबंदी शुरू की थी।


तीनों संगठनों के बीच हुई बातचीत के बाद रविवार को जारी किए गए एक साझा बयान में कहा गया है कि यूएनसी के गिरफ्तार नेता बिना शर्त रिहा किये जाएंगे और नगा कार्यकर्ताओं पर दर्ज मुकदमे वापस होंगे। साझा बयान पर केंद्रीय गृह मंत्रालय में संयुक्त सचिव सत्येंद्र गर्ग, मणिपुर के अतिरिक्त मुख्य सचिव (गृह) जे. सुरेश बाबू, आयुक्त (निर्माण) राधाकुमार सिंह, यूएनसी के महासचिव एस. मिलन और ऑल नगा स्टूडेंट्स एसोसिएशन के अध्यक्ष सेठ शतसंग के साइन करके इसे मंजूरी दे दी है।

सीएम ने जताई खुशी

प्रदेश में नाकाबंदी खत्म होने को मुख्यमंत्री बीरेन सिंह के लिए कामयाबी के तौर पर देखा जा रहा है। समझौते के बाद उन्होंने कहा कि नाकाबंदी मणिपुर के विकास का आगाज भर है। उनकी सरकार पीएम मोदी के किये वायदों को पूरा करने की हर कोशिश कर रही है।

गौरतलब है कि इससे पहले भी इसी साल 7 फरवरी को बातचीत की गई थी लेकिन वो बैठक बेनतीजा निकली थी।