मॉडलों को फैशन पत्रिकाओं में कम मौका: कनिष्ठा

मुंबई। फैशन पत्रिकाओं में मॉडलों की बजाय बॉलीवुड अभिनेत्रियों को मुखपृष्ठ पर देखना पूर्व मिस इंडिया और मॉडलिंग जगत में लोकप्रिय चेहरा कनिष्ठा धनकर को रास नहीं आता। तीखे नैन-नक्श वाली कनिष्ठा (27) से जब ने बॉलीवुड की अभिनेत्रियों को फैशन पत्रिकाओं में जगह मिलने की बात छेड़ी तो उन्होंने कहा, “मुझे लगता है कि यह एक सीमा तक है, क्योंकि अधिकांश लोगों को मॉडलिंग जगत की लड़कियों के बारे में पता नहीं होता, लेकिन मुझे लगता है कि धीरे-धीरे लोग फैशन और मॉडलिंग से जुड़ी लड़कियों को पहचानने लगे हैं।”

Kanistha

उन्होंने इस बात को स्वीकार किया कि इससे उन्हें तकलीफ होती है, क्योंकि मॉडलों को मुश्किल से साल में एक बार ही पत्रिकाओं के मुखपृष्ठ पर छपने का मौका मिल पाता है। पत्रिकाओं में काम करने वाले भी बॉलीवुड अभिनेत्रियों की तस्वीर छापना ज्यादा पसंद करते हैं, क्योंकि वे खूबसूरत और प्रभावशाली होती हैं।

मुंबई में रहने वाली कनिष्ठा ने 2011 में पैंटालून्स मिस इंडिया का खिताब जीता था। उन्होंने भारत का मिस वर्ल्ड में प्रतिनिधत्व भी किया था। बॉलीवुड में आने के सवाल पर उन्होंने कहा कि वह बॉलीवुड में आना चाहती है उन्हें यह बहुत दिलचस्प लगा। इन दिनों वह लैक्मे फैशन वीक विंटर महोत्सव में व्यस्त हैं।

इस उद्योग में जवान, खूबसूरत, पतली और लंबी लड़कियों को ही मौका मिलता है, इस बात पर सहमति जताते हुए उन्होंने कहा कि पहले भारतीय लड़कियों को लेकर डिजाइन इतने खुले हुए नहीं थे, बल्कि विदेशी लड़कियों को मौका देते थे, लेकिन अब उनकी धारणा बदल गई है।