संसद का शीतकालीन सत्र 16 नवंबर से, जीएसटी, तीन तलाक सहित कई बड़े मुद्दों पर होगी चर्चा

नई दिल्ली। 16 नवंबर से शुरु हो रहे संसद के शीकालीन सत्र में नोटबंदी और पैसों को लेकर आम जनता को हो रही समस्याओं का मुद्दा गहरा सकता है। इसके साथ ही कई अन्य मुद्दों, जैसे जीएसटी से जुड़े तीन विधेयक, केंद्रीय वस्तु एंव सेवा कर विधेयक, किराए की कोख जैसे विधेयक प्रमुखता से सामने रखे जा सकते हैं। इन मुद्दों के साथ ही सीमा पार से हो रहे घुसपैठ, सर्जिकल स्ट्राइक, तीन तलाक जैसे ममाले भी चर्चा का विषय बन सकता है।

winter-session

संसद के इस सत्र में कई बड़े मुद्दे रहेंगे जिनपर बहस की जा सकती है। तलाक के संशोधन के नियम को प्रमुखता से इस सत्र में उठाया जा सकता है। हाल के दिनों में सरकार के कई बड़े चेहरों ने तीन तलाक के इस मुद्दे पर बात करते देखे गए। शीतकालीन सत्र के दौरान भारतीय प्रबंध संस्थान विधेयक 2016 भी पेश किया जायेगा जिसमें भारतीय प्रबंध संस्थाओं को राष्ट्रीय महत्व का संस्थान घोषित करने और आईआईएम से पास होने वाले छात्रों को डिग्री प्रदान करने संबंधी मार्ग प्रशस्त होगा।

शीतकालीन सत्र के दौरान सीमापार से हो रहे आतंकी गतिविधियों पर भी चर्चा हो सकती है। पिछले दो महीनों से पाकिस्तान की तरफ से कई बार सीजफायर किया गया और भारत के कई सैनिकों को जान गंवानी पड़ी। विपक्ष इन मुद्दों पर सरकार पर एकबार फिर से निशाना साध सकता है।