अमृत योजना में 90 फीसदी तक कम दाम पर मिल रही दवाएं : नड्डा

जबलपुर| मध्य प्रदेश में केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री जगत प्रकाश नड्डा ने अमृत योजना के बारे में कहा, “इस योजना में 2,000 तरह की दवाइयां एमआरपी (अधिकतम खुदरा दर) से 60 से 90 फीसदी कम दामों में उपलब्ध कराई जा रही है।” नड्डा ने मध्य प्रदेश के जबलपुर के चिकित्सा महाविद्यालय में प्रस्तावित सुपर स्पेशियलिटी ब्लॉक के शिलान्यास कार्यक्रम में शनिवार को कहा कि मध्य प्रदेश में स्थान उपलब्ध कराने पर अमृत योजना में रिटेल स्टोर खोले जाएंगे।

jp-nadda

उन्होंने भरोसा दिलाया कि स्वास्थ्य सेवाओं के विस्तार और स्वास्थ्य सुविधाओं की बेहतरी के लिए राज्य सरकार के प्रयासों में हर जरूरी मदद दी जाएगी। 150 करोड़ की लागत से तैयार होने वाला सुपर स्पेशियलिटी ब्लॉक आम लोगों को उच्चस्तरीय चिकित्सा मुहैया कराने में मददगार होगा। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने जबलपुर में 120 करोड़ रुपये की लागत से स्टेट कैंसर इंस्टीटयूट की स्थापना और एक ट्रामा यूनिट की भी घोषणा की। साथ ही एक सीजीएचएस डिस्पेंसरी की घोषणा की।इस मौके पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि सुपर स्पेशियलिटी ब्लॉक के तैयार होने से जबलपुर और निकटवर्ती जिलों के लोगों को इलाज के लिए बाहर जाने की मजबूरी से निजात मिल सकेगी।

उन्होंने कहा कि किसी भी सरकार के लिए अपनी जनता को बेहतर से बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध कराना सबसे बड़ा दायित्व है। उन्होंने कहा कि राज्य बीमारी सहायता योजना में दो लाख रूपये तक के अधिकार कलेक्टरों को सौंपे गए हैं। हमारा प्रयास है कि किसी भी व्यक्ति को आर्थिक विपन्नता के चलते इलाज से वंचित न रहना पड़े। केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री फागन सिंह कुलस्ते ने कहा कि ब्लॉक के तैयार होने से जबलपुर सहित पूरे महाकौशल के लोगों के लिए उत्कृष्ट चिकित्सा सुविधाएं उपलब्ध होंगी।

प्रधानमंत्री स्वास्थ्य सुरक्षा योजना के संयुक्त सचिव सुनील शर्मा ने बताया कि सुपर स्पेशियलिटी ब्लॉक का कार्य दिसंबर 2017 तक पूरा कर लिया जाएगा। ब्लॉक में 206 बिस्तर रहेंगे। इसमें सात महत्वपूर्ण विभाग को सम्मिलित किया गया है। अस्पताल भवन में छह ऑपरेशन थिएटर, 30 आईसीयू बेड, आठ निजी कक्ष और 18 डायलिसिस बिस्तर भी उपलब्ध होंगे।