जेएनयू लापता छात्र को लेकर राष्ट्रपति से मिले केजरीवाल

नई दिल्ली| दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने रविवार को कहा कि राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने वादा किया है कि वह जेएनयू के एक छात्र के तीन सप्ताह से लापता होने की घटना पर गृह मंत्रालय से रपट मांगेंगे। केजरीवाल ने ट्विटर पर कहा कि जब आम आदमी पार्टी (आप) ने राष्ट्रपति से मुलाकात की, तो उन्होंने उन्हें आश्वासन दिया।मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्होंने 15 अक्टूबर को जेएनयू से लापता छात्र नजीब अहमद के मामले में दखल देने का आग्रह किया था।

president

जेएनयू छात्र भाजपा से संबद्ध अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) के कथित सदस्यों के साथ हुए झगड़े के बाद से लापता है। वहीं एबीवीपी ने उसके लापता होने में किसी तरह की संलिप्तता से पूरी तरह इंकार कर दिया है। केजरीवाल ने कहा,”उन्होंने (राष्ट्रपति) पूरे समर्थन का आश्वासन दिया है और कहा है कि वह गृह मंत्रालय से लापता छात्र पर रपट मांगेंगे।इसबीच, जेएनयू के छात्रों को इंडिया गेट स्मारक पर विरोध प्रदर्शन की अनुमति नहीं दी गई। पुलिस ने प्रथम विश्वयुद्ध के इस स्मारक की तरफ जाने वाले सभी मार्गो को बंद कर दिया है।

 

केजरीवाल ने ट्विटर पर पुलिस कार्रवाई का विरोध किया है। उन्होंने कहा,”ये विद्यार्थी इंडिया गेट पर नजीब के लिए प्रदर्शन करने गए थे। पुलिस ने इंडिया गेट की तरफ जाने वाले सभी रास्ते बंद कर दिए। भारी असुविधा। दिल्ली को पुलिस राज्य में मत बदलिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि रविवार को तैनात पुलिसकर्मियों में से आधी संख्या अगर नजीब का पता लगाने के लिए लगाई जाती, तो वह अब तक मिल चुका होता।