हॉलीवुड सफलता की कुंजी नहीं : वरुण धवन

मुंबई। अभिनेता वरुण धवन का कहना है कि भारतीय फिल्म जगत में सफलता का मानक हॉलीवुड में काम करना नहीं हो सकता और हिन्दी फिल्म जगत को उसके पीछे भागने की बजाय अपनी संस्कृति को बरकरार रखना चाहिए। ‘फिल्मफेयर’ पत्रिका आवरण पृष्ठ के लॉन्च अवसर पर वरुण ने कहा, “मुझे नहीं लगता कि हॉलीवुड के हमारे लिए सफलता की चाबी होना चाहिए। यह गलत है। हम भारतीय हैं और हमारी अपनी अलग संस्कृति है और एक अलग स्तर है। निश्चित तौर पर कई चीजें हैं, जो वे हमसे बेहतर करते हैं, लेकिन कई चीजें ऐसी हैं जो हम उनसे बेहतर करते हैं।”

varun dhawan

पत्रिका के आवरण पृष्ठ पर वरुण हैं। उन्होंने कहा, “हमारा अपना एक अलग तरीका है। तकनीक और वीएफएक्स के लिहाज से वह हमसे थोड़ा आगे हैं, लेकिन मुझे नहीं लगता कि हमें उनकी नकल करनी चाहिए। हमें अपनी भारतीय संस्कृति को बनाए रखना चाहिए।” अभिनेत्री प्रियंका चोपड़ा और दीपिका पादुकोण हॉलीवुड में कदम रख चुकी हैं और उनकी फिल्में जल्द ही रिलीज होने वाली हैं।

हॉलीवुड में भारतीय कलाकारों की भूमिकाओं के बारे में वरुण ने कहा, “मुझे लगता है कि अगर कोई वास्तव में यहां बड़ा कलाकार है तो उसकी अपने प्रशंसकों के प्रति एक जिम्मेदारी होती है। हमें ऐसी फिल्में करनी चाहिए, जहां हम उस फिल्म का अधिक प्रभाव डाल सकें। प्रियंका और दीपिका बड़ी हस्ती और कलाकार है और वे सच में हमें गौरवान्वित महसूस करा रही हैं।”

ऑस्कर के बारे में वरुण ने कहा, “मुझे इसका कोई जुनून नहीं है। मैं इसे इसलिए देखता हूं, क्योंकि ये अच्छे से दर्शाए जाते हैं और हमारा मनोरंजन करते हैं। हालांकि, मुझे यह पसंद नहीं आता जब लोग कहते हैं कि फिल्मफेयर भारतीय ऑस्कर समारोह है। मुझे नहीं लगता कि इसकी कोई जरूरत है।” वरुण ने कहा कि फिल्मफेयर ऑस्कर से जुड़ा हुआ नहीं है। यह भारत का फिल्मफेयर है और इस स्तर को बने रहना चाहिए।