हरियाणा में ‘बेटी बचाओ..’ की ब्रांड एम्बेसडर बनाई गईं साक्षी

चंडीगढ़। रियो ओलम्पिक में कांस्य पदक जीत भारत के पदकों का खाता खोलने वाली महिला पहलवान साक्षी मलिक हरियाणा में ‘बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ’ अभियान की ब्रांड एम्बेसडर नियुक्त की गईं। मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने बुधवार को बहादुरगढ़ में साक्षी के स्वागत और सम्मान के लिए आयोजित समारोह के दौरान यह घोषणा की। साक्षी को सम्मानित करते हुए मुख्यमंत्री ने उन्हें 2.5 करोड़ रुपये का चेक भी प्रदान किया और उन्हें अधिकारी स्तर की सरकारी नौकरी देने की घोषणा भी की।

sakshi

साक्षी बुधवार को रियो से स्वदेश लौटीं और उन्हें बहादुरगढ़ में आयोजित राज्य स्तरीय समारोह में सम्मानित किया गया। उनके गृहनगर रोहतक में भी साक्षी का जोरदार स्वागत हुआ। खट्टर ने इस अवसर पर साक्षी के गांव मोखरा में एक स्पोर्ट्स नर्सरी और एक स्टेडियम निर्मित करने का वादा भी किया। साक्षी के कोच मंदीप सिंह को भी इस अवसर पर 10 लाख रुपये का पुरस्कार प्रदान किया गया। साक्षी के अनुरोध पर मुख्यमंत्री ने साक्षी के दूसरे कोच कुलदीप सिंह को भी 10 लाख रुपये देने की घोषणा की।

हरियाणा की नई खेल नीति के अनुसार, ओलम्पिक में स्वर्ण पदक जीतने वाले राज्य के खिलाड़ियों को छह करोड़ रुपये, रजत पदक विजेता को चार करोड़ रुपये और कांस्य पदक विजेता को 2.5 करोड़ रुपये की पुरस्कार राशि प्रदान की जाती है। खट्टर ने कहा कि हरियाणा अपने खिलाड़ियों को देश के सभी राज्यों से ज्यादा पुरस्कार राशि देता है। उल्लेखनीय है कि रियो ओलम्पिक में हिस्सा लेने वाले 119 सदस्यी भारतीय दल में से 20 खिलाड़ी हरियाणा से थे।