रियो पैरालम्पिक में हिस्सा लेगा ग्रीस का सीरियाई शरणार्थी

एथेंस। ग्रीस में काम कर रहा और प्रशिक्षण ले रहा सीरियाई शरणार्थी उन दो शरणार्थियों में से एक है, जो इस वर्ष रियो पैरालम्पिक में हिस्सा लेंगे। सितम्बर से शुरू हो रहे पैरालम्पिक खेलों में ये दो शरणार्थी ‘इंडिपेंडेंट पैरालम्पिक एथलीट्स टीम’ का हिस्सा होंगे।

हैलेनिक पैरालम्पिक समिति के अध्यक्ष योर्गोस फोउनटोउलाकिस ने शुक्रवार को अपने एक बयान में कहा, हम खुश हैं कि शरणार्थियों के साथ इस प्रकार की टीम बनाने के हमारे प्रस्ताव को स्वीकार कर लिया गया। हम काफी खुश हैं कि हमारा बच्चा इब्राहिम अल हुसैन अब अपने सपने को सच में बदलेगा।

rioअंतर्राष्ट्रीय पैरालम्पिक समिति (आईपीसी) की ओर से हुसैन के शाहरद नासाजपोर के साथ पैरालम्पिक खेलों में हिस्सा लेने की घोषणा किए जाने के बाद संवाददाता सम्मेलन में इसकी घोषणा की गई। शाहरद ईरानी शरणार्थी एथलीट हैं, जो अमेरिका में रह रहे हैं।

ऐसा पहली बार हो रहा है कि इस प्रकार की कोई टीम पैरालम्पिक खेलों में हिस्सा लेगी। रियो पैरालम्पिक में हुसैन पुरुषों की 50 मीटर और 100 मीटर फ्रीस्टाइल तैराकी स्पर्धा में हिस्सा लेंगे। हुसैन को 2012 में हुए एक बम धमाके में अपना एक पैर गंवाना पड़ा था।