‘जन वेदना सम्मेलन’: राहुल ने मोदी पर किए 7 बड़े हमले

नई दिल्ली। पांच राज्यों में आगामी विधानसभा चुनाव को लेकर राहुल गांधी ने आज अपने विदेश दौरे से लौटने के बाद पहली बार जनता को संबोधित किया। राहल गांधी ने ‘जन वेदना सम्मेलन’ आज राजधानी दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम में जनता को संबोधित किया। नोटबंदी से देश की जनता को जो परेशानी उठानी पड़ी है, कांग्रेस ने लोगों की उसी वेदना की आवाज को इस सम्मेलन में उठाने की योजना बनाई इसमें राहुल गांधी ने अपने संबोधन में प्रधानमंत्री मोदी पर जमकर निशाना साधा। नोटबंदी को लेकर राहुल गांधी ने अपने भाषण के शुरुआत और अंत में राहुल ने मोदी सरकार और उनकी योजनाआें पर जमकर निशाना साधा।

गौरलतब है राहुल गांधी सोमवार को अपनी विदेश में यात्रा समाप्त करके आ रहे हैं, राहुल ने दिल्ली आते ही कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं की बैठक बुलाई और पांच राज्यों में आगामी विधानसभा चुनाव को लेकर चर्चाएं की। तालकटोरा मैदान में रैली आयोजित की गई जहां पर राहुल गांधी ने जनता को संबोधित करते हुए मोदी सरकार और उनकी योजनाओं पर जमकर तंज कसा।

आइए जानते हैं तालकटोरा मैदान में आयोजित राहुल ने ‘जन वेदना सम्मेलन’ में किन किन बातों को लेकर पीएम मोदी पर कसा तंज

  • नोटबंदी को लेकर राहुल ने प्रधानमंत्री मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि ‘हमने आरबीआई की स्वतंत्रता का सम्मान किया। यह भारत की वित्तीय रीढ़ है और अब इसकी साख गिर रही है। आरएसएस और भाजपा के लोगों का मानना है कि केवल उन्हीं के विचार मायने रखते हैं किसी और के नहीं।
  • राहुल ने कहा कि मोदी जी ने नोटबंदी के बाद वादे किए थे कि देश से भ्रष्टाचार खत्म होगा और कालाधन वापस आएगा, अब मोदी जी ये क्यों नहीं बता रहे हैं कि अब तक कितना कालाधन वापस आया है।
  • राहुल ने आरोप लगाया कि भाजपा, आरएसएस और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आरबीआई, न्यायपालिका और चुनाव आयोग जैसे संस्थानों को कमजोर किया है जिसे कांग्रेस ने पिछले कई साल में बनाया था। उन्होंने इन संस्थानों को भारत की ‘आत्मा’ बताते हुए कहा कि वर्तमान सरकार ने इनकी साख गिराई है।
  • राहुल ने कहा, ‘पहली बार भारत के प्रधानमंत्री की पूरी दुनिया में आलोचना हो रही है.. इससे पहले कभी भी किसी बड़े अर्थशास्त्री ने नहीं कहा कि प्रधानमंत्री ने इतना खराब निर्णय किया है।’ कांग्रेस नेता ने आरोप लगाया कि नरेन्द्र मोदी के इस निर्णय से अर्थव्यवस्था 16 वर्ष पीछे चली गई है।
  • राहुल गांधी ने पीएम मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि उन्होंने लोगों से योगा कराया लेकिन उनसे पद्मासन नहीं लगा। राहुल ने कहा कि मैने भी योगा किया है और मुझे बताया गया कि जिससे पद्मासन नहीं लगता वह योगा नहीं कर सकता।
  • कांग्रेस अध्यक्ष ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला बोलते हुए कहा कि उन्होंने विफलता छुपाने के लिए नोटबंदी का सहारा लिया। इतना ही नहीं नोटबंदी से अर्थव्यवस्था की रीढ़ की हड़्डी टूट गई है। उन्होंने कहा कि नोटबंदी एक बहाना है, पीएम मोदी को पता लग गया कि योगा और स्किल इंडिया के पीछे छिप नहीं पाएंगे।
  • राहुल ने कहा कि ढाई साल पहले पीएम नरेंद्र मोदी ने वादा किया था कि हिन्दुस्तान को स्वच्छ बना दूंगा। सभी को झाड़ू भी पकड़ाया, फैशन था, तीन-चार दिन चला, खुद भी झाड़ू पकड़ा, फिर भूल गए। इसके बाद मेक इन इंडिया, स्किल इंडिया जैसी कई योजनाएं लाएं।