भारत और पुर्तगाल की चाह, मिलकर बनाएं फिल्म

नई दिल्ली। आने वाले समय में भारत और पुर्तगाल मिलकर फिल्म बना रहे होंगे। दोनों देशों ने इस सिलसिले में समझौते की रूपरेखा तैयार करने पर सहमति जताई है। सूचना और प्रसारण राज्यमंत्री कर्नल राज्यवर्धन राठौड़ और पुर्तगाल के संस्कृति मंत्री लुईस फिलीप कास्त्रो मेंडेस के बीच हुई बैठक में इस मुद्ये पर चर्चा की गई। इसके साथ ही दोनों देशों के सरकारी प्रसारकों के बीच समझौता ज्ञापन की संभावनाओं पर बातचीत हुई। साथ ही, दोनों पक्षों ने तकनीकी एवं सामग्री से संबंधित मुद्दों पर परस्पर सहयोग की संभावनाओं के बारे में भी बात की।

विचार-विमर्श के दौरान कर्नल राठौड़ ने पुर्तगाल के मंत्री को भारत में विदेशी फिल्म बनाने के लिए शुरू की गई एकल खिड़की मंजूरी की सुविधा के बारे में बताया। साथ ही राठौड़ ने कहा कि हमने अपनी फिल्मी विरासत को डिजिटल प्रारूप में सहेजने का अभियान चला रखा है। इस अवसर पर राठौर ने पुर्तगाल के मंत्री को देश में पत्रकारिता और फिल्म निर्माण के प्रमुख शैक्षिक संस्थानों क्रमश: भारतीय जनसंचार संस्थान (आईआईएमसी) और भारतीय फिल्म और टेलीविजन संस्थान (एफटीआईआई) के बारे में भी बताया।

दोनों देशों के छात्रों का एक दूसरे के संस्थानों में पढ़ने की संभावनाओं पर भी दोनों मंत्रियों ने चर्चा की। दोनों नेताओं ने नवीकरणीय ऊर्जा, सूचना और संचार प्रौद्योगिकी तथा स्टार्ट-अप के क्षेत्र में सहयोग की संभावनाओं पर भी बातचीत की।