मनोहर पर्रिकर के करीबी दोस्त होने पर मुझे गर्व : नाना पाटेकर

पणजी।अभिनेता नाना पाटेकर ने शुक्रवार को कहा कि रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर उनके मित्र हैं और उन्हें इस बात का गर्व है। पाटेकर ने मीडिया में आई इन खबरों को खारिज कर दिया है कि वह राष्ट्रीय स्वंयसेवक संघ के बागी नेता सुभाष वेलिंगकर और पर्रिकर के बीच के सार्वजनिक विवाद में वेलिंगकर के साथ हैं।यहां चल रहे 47वें अंतर्राष्ट्रीय फिल्म समारोह से इतर पाटेकर ने कहा, मनोहर तब से मेरे दोस्त हैं, जब वह कुछ नहीं थे। वह हमारे आज भी मित्र हैं और कल भी हमारे मित्र रहेंगे।

nana-patekar

पाटेकर ने कहा, यदि उन्हें मेरी फिल्म पसंद नहीं आती तो वह कह सकते हैं कि नाना मुझे यह पसंद नहीं आई। यदि मुझे उनका कोई राजनीतिक फैसला पसंद नहीं आया, तो मैं उन्हें निजी तौर पर बताऊंगा, सार्वजनिक रूप से नहीं। मनोहर मेरे करीबी दोस्त हैं और मुझे इसका गर्व है। बहुत क म लोग राजनीति में ऐसे होते हैं जो आपके दोस्त हों और आप उन पर गर्व कर सकें।

पाटेकर ने कहा कि वह वेलिंगकर का समर्थन नहीं करते जो गोवा के पूर्व मुख्यमंत्री पर्रिकर की आलोचना करते हैं। पर्रिकर ने गोवा के मुख्यमंत्री रहते हुए राज्य सरकार के प्राथमिक स्कूलों में अंग्रेजी को शिक्षण माध्यम बनाने का फैसला लिया था। इस मामले में वेलिंगकर द्वारा प्रदेश भाजपा पर हमले के बाद उन्हें राष्ट्रीय स्वंयसेवक संघ के राज्य प्रमुख के पद से बर्खास्त कर दिया गया।

पाटेकर ने कहा, मैं वेलिंगकर सर का समर्थन नहीं करता। मैंने उन्हें बुलाकर कहा कि यह आपके आतंरिक मुद्दे हैं, तो आप इन पर सार्वजनिक रूप से चर्चा क्यों करते हैं। इन्हें आतंरिक रूप से हल कीजिए। यही बस मैंने कहा उनकी राजनीति में रुचि नहीं है।