इमरान हाशमी ने खोला अपनी जिंदगी का बड़ा राज

कोलकाता। अभिनेता इमरान हाशमी का कहना है कि एक बिगड़े हुए बच्चे की तरह उन्होंने बहुत कम उम्र से ही हॉरर फिल्में देखनी शुरू कर दी। इमरान ने कहा, “एक बिगड़े हुए बच्चे की तरह मैंने सात साल की उम्र से ही हॉरर फिल्में देखनी शुरू कर दी थी। मैं दूसरे व्यक्तियों की तरह डरता नहीं था, लेकिन अब इस भय को महसूस करता हूं।”

imran

वह अपनी आगामी फिल्म ‘राज रिबूट’ के प्रमोशन के मौके पर कोलकाता पहुंचे। फिल्म के कंटेट के बारे में पूछने पर उन्होंने बताया कि इसमें डर और भय के साथ ही लवस्टोरी को भी दिखाया गया है। उन्होंने कहा, “अब तक जो भी आपने देखा है यह उसके विपरीत है। यह मुख्य रूप से एक प्रेम कहानी है, जो तीन लोगों के व्यक्तिगत संबंधों के चारों ओर घूमती है। लेकिन इसकी मुख्य कहानी हॉरर के बारे में है।”

इसके निर्देशक विक्रम भट्ट हैं। यह फिल्म ‘राज’ फ्रेंचाइजी की चौथी कड़ी है। इसमें कृति खरबंदा और गौरव अरोड़ा भी मुख्य भूमिकाओं में हैं।