मुख्यमंत्री शिवराज ने बाढ़ पीड़ितों से मिल ढांढस बंधाया

भोपाल। मध्य प्रदेश के विंध्य क्षेत्र में बारिश ने जमकर तबाही मचाई है। रीवा व सतना में लगभग सौ गांव बाढ़ की जद में हैं। प्रभावित परिवारों को राहत शिविरों में शरण लेना पड़ी है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान बाढ़ के हालात का जायजा लेने और पीड़ितों से मिलने के लिए शनिवार देर रात खराब मौसम के बावजूद हेलीकॉप्टर की बजाय ट्रेन से सतना पहुंचे। वे 10 बजे सतना पहुंच गए। उन्होंने बाढ़ प्रभावितों के लिए स्नातकोत्तर महाविद्यालय में बनाए गए अस्थाई राहत शिविर में पहुंचकर कहा कि वे बाढ़ पीड़ितों की मदद और उनकी देखभाल के लिए आए हैं।

Madhya Pradesh Chief Minister Shivraj Singh Chouhan at a function in Bhopal on June 3, 2013. Photo by Pankaj Tiwari (BJP)

इसके बाद मुख्यमंत्री चौहान सतना से मैहर के लिए रवाना हुए। उन्होंने अस्पताल में पीड़ितों से मुलाकात की। उन्होंने एक इमारत के धराशायी होने के दौरान चार वर्षीय बालक मयूर गुप्ता को बचाने में अपनी जान गंवाने वाले फुटबाल और क्रिकेट खिलाड़ी बबलू मार्टिन के परिजनों से भी मुलाकात कर उन्हें ढांढस बंधाया। उन्होंने परिजनों को पांच लाख रुपये की राशि देने की घोषणा की।