विमुद्रीकृत नोटों के विनिमय के लिए बैंकों के पास पर्याप्त नकदी: आरबीआई

मुंबई। भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने शुक्रवार को कहा कि विमुद्रीकृत नोटों के विनिमय के लिए देश भर में बैंकों के पास पर्याप्त नकदी उपलब्ध करा दिए गए हैं। लेकिन बैंकों को उनके एटीएम ठीक करने में थोड़ा वक्त लग सकता है। आरबीआई ने एक बयान कहा है कि शुरुआत में दो हजार रुपये तक की निकासी की मंजूरी के साथ अनेक एटीएम शुक्रवार सुबह से काम करने शुरू कर दिए हैं।

RBI

बैंकों की शाखाएं गुरुवार से नोटों के विनिमय शुरू कर चुकी हैं। आरबीआई ने कहा कि 500 और 1000 रुपये के बैंक नोटों के विमुद्रीकरण के मद्देनजर उसने देश भर में 2000 रुपये और अन्य मूल्यों के नोटों के वितरण की व्यवस्था की है।

बयान में कहा गया है, “एक बार एटीएम के चाजू हो जाने के बाद लोग 18 नवम्बर, 2016 तक प्रति कार्ड प्रति दिन अधिकतम दो हजार रुपये निकाल सकते हैं और इसके बाद प्रति दिन प्रति दिन 4000 रुपये तक की राशि की निकासी कर सकते हैं।”

विमुद्रीकृत 500 और 1000 रुपये के नोटों को बदलने की सुविधा 50 दिनों के लिए होगी। बयान में कहा गया है, “भारतीय रिजर्व बैंक लोगों से धर्य रखने की अपील करता है और उनके पुराने नोटों को 30 दिसंबर, 2016 तक किसी समय उनकी सुविधा के अनुरूप बदलने का अनुरोध करता है।”