सचदेवा हत्याकांड के मुख्य आरोपी रॉकी यादव ने किया आत्मसमर्पण

गया। बिहार के गया में छात्र आदित्य सचदेवा हत्या मामले के मुख्य आरोपी जनता दल (युनाइटेड) की विधान पार्षद मनोरमा देवी के बेटे रॉकी यादव ने सर्वोच्च न्यायालय से जमानत रद्द होने के बाद शनिवार को गया की एक अदालत में आत्मसमर्पण कर दिया। सर्वोच्च न्यायालय ने शुक्रवार को रॉकी की जमानत रद्द कर दी थी।पुलिस के अनुसार, रॉकी ने सुबह गया में अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायाधीश (नवम) की अदालत में आत्मसमर्पण कर दिया।

rockey-ydav

इससे पूर्व पटना उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश न्यायमूर्ति इकबाल अहमद अंसारी की एकल पीठ ने 19 अक्टूबर को रॉकी को जमानत दे दी थी। बिहार सरकार ने उच्च न्यायालय के फैसले के खिलाफ तथा रॉकी की जमानत रद्द करने के लिए सर्वोच्च न्यायालय में गुहार लगाई थी। सर्वोच्च न्यायालय ने शुक्रवार को रॉकी की जमानत रद्द करते हुए पुलिस प्रशासन को उसे तत्काल गिरफ्तार करने का आदेश दिया था।

इससे पहले इस मामले में पटना उच्च न्यायालय से रॉकी यादव के पिता बिंदी यादव और मां मनोरमा देवी को भी जमानत मिल चुकी है। रॉकी यादव जद (यू) की निलंबित विधन पार्षद मनोरमा देवी का बेटा है। रॉकी के पिता बिंदी यादव भी अपने क्षेत्र में काफी दबंग व्यक्ति माने जाते हैं।

उल्लेखनीय है कि इसी साल सात मई की रात बोधगया से लौट रहे जद (यू) विधान पार्षद मनोरमा देवी के बेटे रॉकी की लैंड रोवर कार को एक व्यवसायी के बेटे आदित्य सचदेवा ने ओवरटेक किया था, जिसके बाद दोनों में कहासुनी हुई। आरोप है कि इसी दौरान रॉकी ने आदित्य को गोली मार दी। बुरी तरह घायल आदित्य की घटनास्थल पर ही मौत हो गई। इस घटना के बाद गया में कई दिनों तक बवाल मचा था।