फिर यूपी के चुनावी समर का रूख करेंगे नीतीश कुमार

पटना। समाजवादी परिवार में सब कुछ शांत हो पर एक ही खेमे के कहे जाने वाले दो समाजवादी नेता इस बार यूपी चुनाव में आमने-सामने जरूर होंगे इसके लिए बिहार के सीएम नीतीश कुमार दिसम्बर माह में एक बार पिर अपने टुनावी अभियान की शुरूआत करने जा रहे हैं। पार्टी के प्रवक्ता केसी त्यागी के अनुसार नीतीश ्भी अपनी निश्चय यात्रा में व्यस्त हैं. नवम्बर तक वह अपनी इस यात्रा से मुक्त हो एक बार फिर यूपी में अपनी चुनावी रैलियां शुरू करेंगे।

nitish-kumar

बिहार चुनाव में सपा मुखिया मुलायम सिंह के महागठबन्धन तोड़ कर अलग होने के बाद से नीतीश कुमार और मुलायम में सम्बन्ध नार्मल नहीं है। इस बार नीतीश ने भी यूपी चुनाव में मुलायम के वोटों में सेंध मारने का मन बना लिया है। नीतीश कुमार बिहार के तर्ज पर यहां पर भी एक महागठबंधन बनाने के मूड में लगे हुए है। फिलहाल उनकी आगामी रैली में राष्ट्रीय लोक दल के अध्यक्ष अजीत सिंह और बसपा से बागी बने आरके चौधरी का मोर्चा भी शामिल रहेगा।

हांलाकि अभी सभाओं कोलेकर कोई फाइनल कार्यक्रम जारी नहीं हुआ है लेकिन सूत्रों के हवाले से खबरें हैं कि इस बार ये सभाएं बुंदेलखंड और अवध के इलाकों में आयोजित होंगी। जहां पर नीतीश कुमार प्रदेश सरकार और विपक्षी दलों पर निशाना साधेंगे। इस बार नीतीश कुमार रालोद और आरके चौधरी के मोर्चे के जरिए महागठबंधन को लेकर चुनावी ताल यूपी की जमीन पर ठोंकने का मन बना चुके हैं। पार्टी प्रवक्ता केसी त्यागी की माने तो पार्टी के लिए यूपी में 125 के करीब वो सीटें है जहां सामाजिक समीकरण पार्टी के अनुकूल है लिहाजा वह यह मौका छोड़ने वाली नहीं है, क्योंकि वह किसी बड़े दल के तौर पर तो नहीं लेकिन सरकार बनने में अहम भूमिका निभा सकती है।