हिरोशिमा में परमाणु हमले की 71वीं बरसी

टोक्यो। जापान के हिरोशिमा शहर ने शनिवार को परमाणु हमले की 71वीं बरसी मनाई। द्वितीय विश्वयुद्ध की समाप्ति के समय हुए इस परमाणु हमले में हजारों लोग मारे गए थे। हिरोशिमा ने इस दुखद घड़ी में विश्वभर के नेताओं से शहर का दौरा करने का आग्रह किया है।

Hiroshima

समाचार एजेंसी ‘एफे’ के मुताबिक, परमाणु विस्फोट के केंद्र के निकट ‘पीस पार्क’ में समारोह का आयोजन किया गया। समारोह छह अगस्त, 1945 की उस दुखद घड़ी को याद करते हुए सुबह 8.15 बजे एक मिनट के मौन के साथ शुरू हुआ, जब अमेरिकी वायुसेना के बी-29 इनोला गे ने विश्व का पहला परमाणु बम ‘लिटिल बॉय’ गिराया था।

शहर के मेयर कुजुमी मत्सुई ने विश्व के नेताओं से परमाणु हमले के प्रभाव को समझने के लिए अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा के पदचिन्हों पर चलते हुए हिरोशिमा और नागासाकी का दौरा करने का आग्रह किया है। ओबामा ने मई में इस शहर का आधिकारिक दौरा कर ऐसा करने वाले पहले अमेरिकी राष्ट्रपति बन गए हैं।

समारोह में जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे और ब्रिटेन, फ्रांस और रूस समेत 91 देशों के प्रतिनिधि और साथ ही शहर के युवा और बमबारी से बचे हुए लोग शामिल हुए। हिरोशिमा में 71 साल पहले गिराए गए बम ने तत्काल 80,000 जानें ले ली थी। साल के अंत तक परमाणु बमबारी के कारण मृतकों की संख्या बढ़कर 1,40,000 हो गई थी।

नागासाकी में तीन दिन बाद यानी नौ अगस्त, 1945 को हुई बमबारी के कारण जापान को आत्मसमर्पण करना पड़ा था, जिसके बाद द्वितीय विश्वयुद्ध समाप्त हो गया था।