केरल और पेटलावद की घटनाओं से प्रशासन को लेना होगा सबक

शाजापुर। पेटलवाद के बाद अब केरल में हुए हादसे के चलते रिहायशी इलाके में वर्षों से संचालित हो रहे गैस गोदाम को हटाने की मांग शुरू हो गई है। भाजपाईयों ने भाजपा नगर अध्यक्ष शीतल भावसार के नेतृत्व में सोमवार को जिला कलेक्टर राजीव शर्मा को शहर में स्थित गैस गोडाऊन शहरी सीमा से बाहर करने के लिए ज्ञापन सौंपा। नगर अध्यक्ष भावसार ने बताया कि ज्ञापन के माध्यम से जिला प्रशासन से मांग की गई है कि केरल और पेटलावद में हुए भीषण हादसों से सबक लेकर प्रशासन को शहरी सीमा में संचालित गैस गोडाऊन को शहरी सीमा से बाहर किया जाना चाहिए।

 

उक्त गोडाऊनों के शहरी क्षेत्रों में होने से किसी भी दिन पेटलावद या फिर केरल के मंदिर में हुई आतिशबाजी जैसी भयावह घटना घटित हो सकती है। क्योंकि उक्त गोडाऊन के आसपास आवासीय क्षैत्र, शासकीय विभाग, मेरिज गोर्डन, छात्रावास, स्कूल, पेट्रोल पंप संचालित हो रहे हंै, जिससे भविष्य में जनहानी की आशंका है। ज्ञापन के माध्यम से जिला प्रशासन से मांग की गई कि उक्त गोडाउन को शहरी क्षैत्र से बाहर किया जाए जिससे शहर के नागरिक सुरक्षित रह सकें। ज्ञापन सौंपते समय नगर महामंत्री आशीष नागर, भूपेंन्द्र मालवीय, दिनेश शर्मा, सुनिल माहेश्वरी, संजय नागर, धीरज शर्मा, धर्मेन्द्र ठाकुर, सत्यनारायण कसेरा, प्रहलाद गवली, सीपी चावड़ा, दीपक माहेश्वरी, श्रीमती मधुकांता सोनी, सुश्री शुभांगी रघुवंशी, नरेन्द्र यादव, महेन्द्र सोनी, अजय दीक्षित, दिनेश सौराष्ट्रीय, मूलचंद जाटव, सुमित शर्मा, राहुल परमार एवं सुनिल गोयल, उपस्थित थे।